वेब डिजाइनर कैसे बने : योग्यता,फ़ीस,कॉलेज,सैलरी

Web Designer In Hindi  : अक्सर जब भी कैरियर की बात आती है तो कोई डॉक्टर बनना चाहता है तो कोई कोई कंप्यूटर एक्सपर्ट बनना चाहता है। ऐसे ही कई सारे फील्ड है, जिसमे अपना युवा कैरियर बनाना चाहते हैं। इन्ही में से एक काफी महत्वपूर्ण कैरियर क्षेत्र Web Designer का भी है।

Web-Designer-Kaise-Bane,
Web Designer Kaise Bane
अगर आप एक अच्छे Web Designer बन जाते है. तो आप महीना के लाखों रुपए आसानी से कमा सकते हैं। इसीलिए आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे की Web Designer क्या है, Web Designer कैसे बने, Web Designer Course के फायदे, वेब डिजाइनर कोर्स कौन से है। अंत में हम यह भी बताएंगे की आखिर एक Web Designer की सैलरी कितनी होती है।
अनुक्रम दिखाए

वेब डिजाइनिंग क्या है (Web Designing Kya Hai)

एक वेबसाइट के बनाने या डेवलप करने कि प्रक्रिया को Web Designing कहते है. इसमें Web Page का Layout, Graphic, Font और Content Production इत्यादि कई सारे चीजों पर ध्यान देना होता है। जो व्यक्ति वेब डिजाइनिंग का काम करता है, उसे हम Web Designer कहते है।
एक Web Designer की जिम्मेदारी होती है की वह एक वेबसाइट की ऐसी रूप रेखा तैयार करे, जिससे किसी व्यक्ति को वेबसाइट को इस्तेमाल करने में कोई परेशानी न हो। आपको बता दें कि वेब डिजाइनिंग को वेब डेवलपमेंट नहीं कहा जा सकता है क्यों कि दोनो अलग है।
वेब डिजाइनर कुछ प्रोग्रामिंग भाषा का इस्तेमाल करके वेबसाइट को बनाता है, इसमें HTML जो की एक Markup Language हैं, इसका इस्तेमाल करके Website का Structure तैयार की जाती है। इसके बाद CSS से इसे आकर्षक बनाया जाता है।
चलिए इसे एक उदारहण से समझते है। जैसे हमारे शरीर को Structure हमारी हड्डी देती है और शरीर को खूबसूरत Muscles बनाती है। इसमें आप हड्डी को HTML समझ सकते है और Muscles को CSS समझ सकते हैं।

वेब डिजाइनिंग के प्रकार (Types Of Web Designing)

एक वेबसाइट को बनाने में दो महत्वपूर्ण चीजों का बहुत भूमिका होता है। जिसमें पहले Front End Developer और दूसरा Backend Developer शामिल है। अब आपके मन में सवाल आ रहा होगा कि Front End Developer क्या है और Backend Developer क्या है? चलिए इसके बारे में भी जानकारी ले लेते हैं।
Front End Developer अगर आप किसी भी वेबसाइट पर जाते हो तब आप साइट पर बहुत सारी चीजों को देखते होंगे। जिसमे Website Structure, Font, Image, Color, Animation इत्यादि सभी चीजें शामिल होते हैं। इन सभी चीजों को जो बनाता है उसे हम Front End Developer कहते है।
इसमें Front End Developer इसकी भी जिम्मेदारी दी जाती है कि वह Website को ऐसा Look दे की वह एक User को काफी पसंद आए। जिससे यूजर उस वेबसाइट को भूल ना पाए और बार-बार उसी वेबसाइट पर जाना पसंद करें।
इसके साथ ही Website के User Experience को बेहतर करना भी Front End Developer का ही काम होता है।
Backend Web Developer – एक Backend Developer का काम होता है की वेबसाइट पर जब भी कोई User Respond करेगा तो Website क्या रिजल्ट दिखाएगा। Back End Developer का काम यह भी होता है कि आखिर वह अपने यूजर को क्या चीज दिखाना चाहता है और क्या चीज नहीं दिखाना चाहता यह Backend Web Developer के हाथ होता है।
यह Website को Develop करने का काफी Complex Part है। इसमें एक Backend Web Developer को काफी Communication Logic को लगाना पड़ता है। हम ऐसा भी कह सकते है की User Front End Development के मदद से Back End के चीजों को इस्तेमाल कर पाता हैं।
यह भी पढ़े

वेब डिजाइनिंग बनने के फायदे – Web Designing Course Benefits In Hindi

अगर आप Web Designing का Course कर Web Designing का काम सीखते है। तो आप एक Web Designer बन जाते है। Web Designer बनने के बहुत सारे फ़ायदे हैं। तो चलिए जानते है कि आखिर आपको Web Designer बनने के क्या फायदे हैं।
  1. अगर आप वेब डिजाइनिंग के कोर्स को करते है तो आप कम समय में ही इस पूरे वेब डिजाइनिंग के कोर्स को कर लेते है। इसमें आपको अधिक समय नहीं देना होगा।
  2. वेब डिज़ाइनर कभी भी बेरोजगार नही रहेगा क्यों की वेब डिजाइनर को हर समय मौका मिलते रहता है। इसलिए अगर कोई व्यक्ति घर बैठे पैसे को कमाना चाहता है तो उनके लिए वेब डिजाइनिंग काफी सही रहेगा।
  3. वेब डिजाइनिंग कोर्स को करने के बाद आप घर बैठे भी नौकरी कर सकते हैं। इस प्रकार आपको कहीं जाने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी।
  4. अगर आप वेब डिजाइनिंग के क्षेत्र में निरंतर काम करते जाते हैं तो इससे आपको काफी अनुभव मिलता है। इसका आप अपना खुद का Web Designing Company खोलने में कर सकते हैं।
  5. इसके अलावा आप वेब डिजाइनिंग कोर्स को करने के बाद आप लोगों को वेब डिजाइनिंग कोर्स के बारे में ट्रेनिंग दे सकते हैं। वेब डिजाइनिंग की ट्रेनिंग देने से आप एक अपना खुद का ट्रेनिंग सेंटर भी खोल सकते हैं।

वेब डिजाइनिंग सॉफ्टवेयर कौन से है? Useful Software For Web Designing

फोटोशॉप, Figma, Webflow, Sketch कुछ ऐसे सॉफ्टवेयर है जिनका इस्तेमाल हर वेब डिजाइनर को करना चाहिए क्योंकि यह आपके काम को काफी आसान बना देता है।

वेब डिज़ाइनर सैलरी इन इंडिया – Web Designer Salary In India

भारत में औसतन सैलरी 25000 महीने से लेकर 50000 रुपए महीना तक होता है। इसके साथ ही जैसे-जैसे वेब डिजाइनर का एक्सपीरियंस भरता है वैसे ही उसकी सैलरी भी बढ़ती है।

वेब डिजाइनिंग कोर्स (Web Designing Course In Hindi)

#1. वेब डिजाइनिंग कोर्स का अवधि (Web Designing Course Duration)

यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप वेब डिजाइनिंग कहा से कर रहे है। भारत में वेब डिजाइनिंग करने के लिए औसतन 6 महीने से लेकर 2 साल तक का कोर्स होता है।
इसके अलावा आप इसको वेब डिजाइनिंग कोर्स को ऑनलाइन भी कर सकते हैं। इसमें पूरी तरीके से आप पर निर्भर करेगा कि आप कितने दिनों वेब डिजाइनिंग को सीख पाएंगे।

#2. वेब डिजाइनिंग कोर्स फीस (Web Designing Course Fees In Hindi)

अगर आप वेब डिजाइनिंग को किसी कॉलेज से करते हैं तो आपको पूरा कोर्स करने के लिए ₹40000 से लेकर ₹200000 तक देना पड़ सकता है लेकिन अगर आप वेब डिजाइनिंग कोर्स को ऑनलाइन करते हैं तो यह बिलकुल फ्री हो सकता हैं।
लेकिन मैं आपको सलाह नहीं दूंगा कि आप इनसे कोशिश को करें। आप Udemy, Skillshare जैसे अन्य कई प्लेटफार्म पर मात्र ₹5000 में वेब डिजाइनिंग कोर्स को घर बैठे आसानी से सीख सकते हैं।

#3. वेब डिजाइनिंग कोर्स के लिए योग्यता (Eligibility For Web Designing Course In Hindi)

वेब डिजाइनिंग कोर्स को करने के लिए आपको कम से कम 10+2 करना होगा। इसी के बाद आप किसी कॉलेज में वेब डिजाइनिंग कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं।
एक बात बता दू की हर एक कॉलेज में वेब डिजाइनिंग कोर्स के लिए अलग-अलग योग्यता हो सकते हैं। इसके अलावा अगर आप वेब डिजाइनिंग कोर्स ऑनलाइन करना चाहते हैं तो इसमें आपको कोई योग्यता की जरूरत नहीं होती हैं।

वेब डिजाइनिंग कोर्स सिलेबस (Web Designing Course Syllabus In Hindi)

आपको वेब डिजाइनिंग कोर्स में अनेक Module के द्वारा पूरे कोर्स को समझाया जाता है। चलिए जानते हैं कि आखिर वेब डिजाइनिंग सिलेबस में क्या-क्या पढ़ाया जाता हैं।
  • Introduction to the web designing
  • Computer operating and file management
  • Basic HTML and CSS
  • Adobe Photoshop
  • Bootstrap
  • Advance web designing with HTML and CSS
  • Connecting JavaScript and jquery
  • PHP integration with website
  • Domain registration and web hosting
  • Project work
  • How to get freelance work
  • Student development program

Web Designing Course कैसे सीखे

#1. Online Web Designing सीखे

अगर आप ऑनलाइन वेब डिजाइनिंग सीखना चाहते हैं तो आप इसे फ्री में तो यूट्यूब पर सीख सकते हैं लेकिन इसमें आपको अन्य Study Material एक जगह पर प्राप्त नहीं हो पाएगी। जिसके कारण आप ऑनलाइन वेब डिजाइनिंग किसी Paid Platform पर सीख सकते है।
इसमें आपको वेब डिजाइनिंग से संबंधित सारी जानकारी एक जगह पर मिल जाती है। कुछ वेबसाइट का नाम हमने नीचे बताया है जहां पर आप ऑनलाइन वेब डिजाइनिंग के कोर्स को कर सकते हैं।
  • Udemy
  • Coursera
  • Skillshare
  • Codecademy

Offline Web Designing Course को करे

अगर आप ऑनलाइन वेब डिजाइनिंग कोर्स कॉल नहीं करना चाहते हैं तो आप ऑफलाइन किसी संस्था या कॉलेज में वेब डिजाइनिंग के कोर्स को कर सकते हैं। अगर आपको अपने नजदीकी संस्था के बारे में पता नहीं है तो आप Web Designing Course Near Me सर्च कर सकते हैं।
जिसके बाद आपके सामने बहुत सारे कॉलेज इंस्टिट्यूट का नाम आ जाएगा जहां पर आप वेब डिजाइनिंग का कोर्स कर सकते हैं। आपको किसी अच्छे कॉलेज में जाकर वेब डिजाइनिंग से संबंधित सारी जानकारियों को ले लेना है। इसके लिए जो लोग उस कॉलेज में वेब डिजाइनिंग के कोर्स को कर रहे हैं उनसे सलाह ले सकते हैं।

प्रोफेशनल वेब डिज़ाइनर कैसे बने? Professional Web Designer Kaise Bane

जब आप वेब डिजाइनिंग के कोर्स को करते हैं तो आप एक वेब डिजाइनर तो बन जाते हैं लेकिन यह काफी जरूरी है कि आप एक प्रोफेशनल वेब डिजाइनर बने क्योंकि अगर आप प्रोफेशनल वेब डिजाइनर बनते हो तो आपके पास कैरियर के बहुत सारे विकल्प होते हैं।
अगर आप अपनी एक प्रोफेशनल वेब डिजाइनर बनना चाहते हैं तो मेरे इस Guide को जरूर फॉलो करे। इससे आपको Professional Web Designer कैसे बने से संबंधित सारी जानकारियां मिल जाती है।
  • प्रोफेशनल वेब डिजाइनर बनने के लिए आपका Creative Mind होना चाहिए।
  • आपको Photoshop के बारे में अधिक जानकारी होना चाहिए।
  • वेब डिजाइनिंग में काम आने वाले सभी टूल के बारे में अच्छी जानकारी होना चाहिए।
  • प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के बारे में अच्छी जानकारी होना चाहिए।
  • एक प्रोफेशनल वेब डिजाइनर को सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन यानी SEO का Basic Knowledge होना जरूरी हैं।
  • प्रोफेशनल वेब डिजाइनर बनने के लिए आपको हमेशा वेब डिजाइनिंग के प्रैक्टिसेज करते रहना चाहिए।
  • इन सारे तरीकों का इस्तेमाल करके आप एक प्रोफेशनल वेब डिजाइनर बन सकते है।

वेब डिजाइनिंग कैरियर स्कोप (Web Designer Career Scope In Hindi)

आजकल सभी लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं और जहां पर इंटरनेट का बात आती है वहां पर वेबसाइट का भी नाम आता है और जैसे कि मैंने बताया इन वेबसाइट को बनाने में वेब डिजाइनर की एक महत्वपूर्ण भूमिका होती है। इसलिए एक वेब डिजाइनर को कैरियर का अच्छा स्कोप मिल जाता है।
आज हर छोटी से छोटी कंपनी और दुकान भी अपनी वेबसाइट को बनवा दी है जिसके कारण एक वेब डिजाइनर उनकी वेबसाइट को बनवाने में मदद कर सकता है और अच्छे पैसे भी कमा सकते हैं। इसके अलावा आप एक वेब डिज़ाइनर बनकर कोई IT Company में जॉब के लिए आवेदन करते हैं तो आपको अनेक पदो पर नौकरी मिल सकती है।
जिसमे हमारा Front End Developer, Backend Developer, Graphic Designer, UX Designer जैसे पद शामिल हैं।

Video Guide

निष्कर्ष

आशा करता हूं की हमने आपको Web Designing क्या है और Web Designer कैसे बने से संबंधित सारी जानकारियों को दे दिया है और आपको हमारी यह पोस्ट पसंद भी आई होगी लेकिन अगर अभी भी आपको Web Designing क्या है और Web Designer कैसे बने से संबंधित कोई भी सवाल है तो कमेंट में जरूर पूछें।
हम आपको जल्द ही इसका जवाब देंगे और आपके द्वारा पूछे गए प्रश्न को इस लेख मैं भी जोड़ देंगे। तो इस लेख को खास बनाने में आप हमारी मदद कर सकते हैं। इसके अलावा अगर आपका कोई अन्य दोस्त वेब डिजाइनर बनना चाहता है तो इस लेख को जरूर शेयर करें धन्यवाद।

नमस्कार दोस्तों मैं Sonu Kumar इस ब्लॉग का लेखक और मालिक हूँ | मैं अपने ब्लॉग पर Career, Job, Earn Money Tips, और लोगो के Success Story के ऊपर लेख लिखता हूँ,

Leave a Comment