रेलवे में कौन कौन से पद होते हैं? पुरी जानकारी

दोस्तों अगर आप अभी पढ़ाई कर रहें हैं और आप भविष्य में रेलवे में जॉब करना चाहते हैं, तो आपके लिए यह जानना बहुत ज़रुरी हैं की रेलवे में कौन कौन से पद होते हैं? क्योंकि अगर अभी से आप रेलवे के पद के बारे में जानकारी रखेंगे।
रेलवे-में-कौन-कौन-सी-पद-होती-हैं, Railway-Me-Koun-Koun-Se-Pad-Hote-Hain,
तो आने वाले समय में अपने लिए एक बेहतर पद का चुनाव कर पाएंगे।
इसलिए आपकी सहायता के उद्देश्य से हम आज रेलवे में कौन कौन से पद होते हैं इसके बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं, जिसको पढ़कर आप यह जान सकते हैं, की आखिर रेलवे में कौन कौन से पद होते हैं
लेकिन अगर आप भविष्य में  रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी वाले नौकरी करना चाहते हैं, तो आप हमारा पोस्ट रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी किसकी होती हैं इस पोस्ट में हमने रेलवे के उन नौकरियों के बारे में बताया है । जिसमे बहुत ज्यादा सैलरी होती है।
तो खैर चलिए अब हम रेलवे में कौन कौन सी नौकरियां होती हैं, इसके बारे में हम आपको विस्तार पूर्वक बताते हैं।
अनुक्रम दिखाए

रेलवे में कौन-कौन से पद होते हैं? पुरी जानकारी

अब हम आपको रेलवे के जिन पद के बारे में भी बताएंगे वो रेलवे का सबसे महत्वपूर्ण पद होगा , जिसमे अच्छी सैलरी के साथ साथ कई सारे सुविधाएं भी मिलती है ।

1. स्टेशन मास्टर

स्टेशन मास्टर रेलवे का एक अहम पद हैं स्टेशन मास्टर किसी भी रेलवे स्टेशन का मास्टर होता हैं, जो यह तय करता हैं की उसके रेलवे स्टेशन पर कौन सी रेलगाड़ी आने वाली हैं, कौन सी रेलगाड़ी जाने वाली हैं, और कौन सी रेलगाड़ी आ या जा चुकी हैं।
इसके अलावा एक स्टेशन मास्टर यह भी तय करता हैं  की उसके रेलवे स्टेशन पर कौन सी रेलगाड़ी किस Platform पर रोकेगी और कौन सी ट्रेन उसके स्टेशन से पहले निकलेगी,
स्टेशन मास्टर का मुख्य काम रेलगाड़ी को सही जगह पर लगवाना, रेलगाड़ी को पास करवाना, रेलगाड़ी को सही समय पर छोड़ना, रेलगाड़ी का स्पीड का देख रेख करना इत्यादि होता हैं,
स्टेशन मास्टर को अपना काम करने के लिए एक Personal Control Room दिया जाता हैं, जहाँ से वो एक मशीनी मैप के द्वारा यह चिन्हित करता हैं, की उनके रेलवे स्टेशन पर कौन सी रेलगाड़ी आने वाली हैं, कौन सी रेलगाड़ी जाने वाली हैं, और कौन सी रेलगाड़ी आ चुकी हैं।
स्टेशन मास्टर का Job बहुत ही जिम्मेदारी भरा काम हैं अगर रेलवे स्टेशन मास्टर से एक छोटी सी भी ग़लती हो जाती हैं तो इसके वजह से बहुत बड़ा दुर्घटना भी हो सकता हैं.

स्टेशन मास्टर की सैलरी कितनी होती हैं?

ट्रेनिंग के दौरान स्टेशन मास्टर को 2800 रूपए का Grade Pay दिया जाता हैं, और ट्रेनिंग के बाद यह 2800 से 4200 रूपए हो जाता हैं,  Grade Pay के अलावा HRA भत्ता, महँगाई भत्ता जैसे सभी भत्ते को जोड़कर एक रेलवे स्टेशन मास्टर की सैलरी ₹50,499 रूपए होती हैं.

स्टेशन मास्टर को कौन कौन सी सुविधा मिलती हैं?

  1. बच्चे के लिए फ्री पढ़ाई का सुविधा
  2. जॉब लोकेशन पर सरकारी मकान की सुविधा
  3. मेडिकल की सुविधा
  4. फ्री रेल यात्रा की सुविधा
  5. पेंशन की सुविधा
  6. PF की सुविधा
  7. इत्यादि सुविधा एक स्टेशन मास्टर को मिलता है।

रेलवे स्टेशन मास्टर कैसे बने?

रेलवे स्टेशन मास्टर बनने के लिए आपको अपना ग्रेजुएशन कि पढ़ाई पूरा करना होगा, फिर Vacancy के समय आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा।
इसके बाद प्रथम और मेंन एग्जाम को Clear करना होगा, इसके बाद आपका मेडिकल होगा, अगर मेडिकल में पास हो जाते हैं, तो आपका स्टेशन मास्टर के पद पर सिलेक्शन हो जाता हैं।

स्टेशन मास्टर के लिए योग्यता

  1. उम्मीदवार का ग्रेजुएशन पूरा होना चाहिए (किसी भी स्ट्रीम से)
  2. उम्मीदवार की उम्र 18 साल से कम और 32 साल से ज्यादा नहीं होनी चाहिए
  3. उम्मीदवार भारत का नागरिक होना चाहिए
  4. उम्मीदवार शारीरिक और दिमागी रूप से स्वस्थ होना चाहिए
Read Also

2. गुड्स गार्ड

गुड्स गार्ड भी रेलवे का एक अहम पद हैं. अगर हम बात करें की गुड गार्ड कौन होते हैं, गुड गार्ड मालगाड़ियों के पीछे रहते हैं गुड गार्ड का काम रेलगाड़ी को सुचारु रूप से चलवाना, लोको पायलट को ट्रेन चलाने की अनुमति देना।
जिस रेलगाड़ी पर वो ड्यूटी कर रहा हैं, वो कितने बजे कौन सी रेलवे स्टेशन पार की हैं इसका डाटा तैयार करना होता हैं|
गुड गार्ड का काम रेलगाड़ी को सही ढंग से चलवाना, रेलगाड़ी की डाटा तैयार करना, इत्यादि होता हैं? इसके अलावा एक Goods Guard आपातकालीन के समय रेलगाड़ी का ब्रेक भी लगाता हैं।
मालगाड़ियों के अंतिम डिब्बा जिसमे गुड गार्ड रहते हैं उसमे ना ही बिजली की सुविधा होती हैं, और ना ही शौचालयों की सुविधा होती हैं, अगर गुड गार्ड की शौचालाय लग जाता हैं, तो उसको स्टेशन का इंतज़ार करना पड़ता हैं, क्योंकि इनके बोगी में शौचालाय नहीं होता|
पुरी सफ़र के दौरान गुड गार्ड को अकेले अंधेरे में ड्यूटी करना पड़ता है। इस बीच कोई भी लुटेरे इनके साथ लूटपाट कर सकते हैं।
लेकिन भले ही Goods Guard की नौकरी में हजार मुश्किल हो लेकिन इसके बदले में एक गुड गार्ड को रेलवे के तरफ से बहुत अच्छी सैलरी दी जाती हैं, चलिए हम आपको बताते हैं की गुड गार्ड की सैलरी कितनी होती हैं।

गुड गार्ड की सैलरी कितनी होती हैं?

शुरुआती समय में गुड गार्ड की सैलरी ₹35000 रूपए होती हैं लेकिन अनुभव बढ़ने के साथ साथ गुड गार्ड की सैलरी भी बढ़ता हैं. और एक समय पर गुड गार्ड की सैलरी ₹41,316 रुपए हो जाती हैं| इसके अलावा गुड गार्ड को पेंशन की सुविधा भी मिलती हैं|

गुड गार्ड को कौन कौन सी सुविधा मिलती हैं?

  1. बच्चो के लिए फ्री पढ़ाई की सुविधा
  2. जॉब लोकेशन पर फ्री सरकारी मकान की सुविधा
  3. फ्री मेडिकल की सुविधा
  4. रेलवे में फ्री टिकट की सुविधा
  5. पेंशन की सुविधा
  6. Pf की सुविधा
  7. इत्यादि सुविधा गुड गार्ड को मिलती हैं.

गुड गार्ड कैसे बने?

गुड्स गार्ड बनने के लिए आपकी ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी होनी चाहिए. गुड्स गार्ड बनने के लिए आप अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई किसी भी स्ट्रीम से कर सकते हैं, इसके बाद आप गुड्स गार्ड के फॉर्म को भरकर तथा इसके एग्जाम को पास करके रेलवे में गुड्स गार्ड बन सकते हैं।
अधिक जानकारी के लिए आप हमारा पोस्ट गुड्स गार्ड कैसे बने को पढ़ सकते हैं, जिसमे मैंने गुड्स गार्ड के बारे में पूरी जानकारी दी है।

रेलवे गुड गार्ड के लिए योग्यता

  1. उम्मीदवार का ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरा होनी चाहिये
  2. उम्मीदवार का उम्र न्यूनतम 18 वर्ष और अधिकतम 33 वर्ष होनी चाहिए|
  3. आँखों की रौशनी तेज़ होनी चाहिए |
  4. उम्मीदवार शारीरिक और मानसिक रूप से ठीक होनी चाहिए |
Read Also

3. टिकट कलेक्टर

टिकट कलेक्टर भी भारतीय रेलवे का एक अहम पद हैं टिकट कलेक्टर Group C के अंतर्गत आता हैं. टिकट कलेक्टर के बारे में तो आप लोग तो जानते ही होंगे टिकट कलेक्टर काम रेलगाड़ी में यात्रा कर रहे लोगो का टिकट चेक करना होता हैं।
आपने कभी मी रेलवे में सफ़र किया होगा की काले कोर्ट पहने एक आदमी आता हैं. जो हमसे हमारा टिकट निकलने को कहता हैं इन्ही लोगो को टिकट कलेक्टर कहते हैं।
टिकट कलेक्टर को TC, TTE इत्यादि नामो से भी जाना जाता हैं. टिकट कलेक्टर की नौकरी रेलवे की एक अच्छी नौकरी मानी जाती हैं क्योंकि इस नौकरी में आपको अच्छी सैलरी के साथ साथ रेलवे के तरफ से कई तरह की सुविधाएं भी मिलती है ।

टिकट कलेक्टर की सैलरी कितनी होती हैं?

रेलवे टिकट कलेक्टर का कुल सैलरी ₹38,400 रूपए होता हैं इसके अलावा टिकट कलेक्टर को रेलवे के तरफ से बहुत सारी सुविधाएँ भी मिलती हैं |

टिकट कलेक्टर को कौन कौन सी सुविधाएँ मिलती हैं?

  1. मेडिकल की सुविधा
  2. फ्री यात्रा की सुविधा
  3. पेंशन की सुविधा
  4. फ्री मकान की सुविधा
  5. PF की सुविधा

टिकट कलेक्टर कैसे बने?

टिकट कलेक्टर ग्रेजुएशन स्तर का एक पद हैं अंत टिकट कलेक्टर बनने के लिए आपको अपना ग्रेजुएशन पूरा करना होगा फिर वेकेंसी के समय आपको RRB के वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा।
इसके बाद आपको प्रथम और मेन एग्जाम को क्लियर करना होगा फिर आपको मेडिकल होगा इसके बाद आपको टिकट कलेक्टर के पद पर सिलेक्शन कर लिया जाता हैं।

टिकट कलेक्टर के लिए योग्यता

  1. उम्मीदवार का ग्रेजुएशन पूरा होना चाहिए
  2. ग्रेजुएशन में 50% मार्क्स होना चाहिए |
  3. आपकी उम्र न्यूनतम 18 वर्ष और अधिकतम 25 वर्ष से ज्यादा नहीं होनी चाहिए
  4. OBC/ST/SC को 3 से 5 साल की छूट दी जाती हैं|
  5. उम्मीदवार मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ होना चाहिए

4. लोको पायलट

लोको पायलट रेलवे का सीनियर लेवल का पद हैं, अगर हम बात करें की लोको पायलट कौन होते हैं, तो आपको बता दे की आसान भाषा में ट्रेन के ड्राइवर को ही लोको पायलट कहां जाता है,
लोको पायलट का मुख्य काम ट्रेन को सही ढंग से चलना होता है | लोको पायलट की नौकरी बहुत ही रोमांचक होता हैं, क्योंकि इसमें आपको ट्रेन चलाते समय खूबसूरत नज़ारे देखने को मिलते हैं, लोको पायलट को 8 से 12 घंटे के बीच काम करना पड़ सकता है, लोको पायलट की नौकरी एक हाई लेवल की नौकरी मानी जाती हैं, क्योंकि इस नौकरी में अच्छे सैलरी के साथ बहुत सारी सुविधाएँ भी मिलती है,

लोको पायलट की सैलरी कितनी होती है,

लोको पायलट को Basic Pay ₹19,900 होती है इसके अलावा लोको पायलट को HRA, DA जैसे कई भत्ते भी मिलते हैं, कुल मिलाकर देखा जाएं तो लोको पायलट की सैलरी 30,000 से लेकर 40,000 के बीच होती हैं |

लोको पायलट को कौन कौन सी सुविधाएँ मिलती है|

  1. लोको पायलट की फ्री मेडिकल को सुविधा मिलती है
  2. फ्री ट्रेन यात्रा की सुविधा मिलती है
  3. जॉब लोकेशन पर फ्री सरकारी मकान की सुविधा
  4. पत्नी बाल बच्चे को फ्री यात्रा की सुविधा
  5. साप्ताहिक छुट्टी को सुविधा
  6. पेंशन की सुविधा
  7. पीएफ कि सुविधा

लोको पायलट कैसे बने

रेलवे में लोको पायलट आप डायरेक्ट नहीं बन सकते लोको पायलट एक प्रोमोशन वाला पद हैं, लोको पायलट बनने के लिए आपको पहले असिस्टेंट लोको पायलट (ALP) बनना होगा, फिर प्रोमोशन प्राप्त करके आप लोको पायलट बन सकते हैं,

लोको पायलट बनने के लिए योग्यता

लोको पायलट बनने के लिए आपका 12 वी की पढ़ाई पूरी होनी चाहिए साथ 2 साल का ITI या डिप्लोमा कोर्स होना चाहिए,
अगर आपके पास ये योग्यता हैं तो आप असिस्टेंट लोको पायलट बनने की तैयारी करे फिर आपको असिस्टेंट लोको पायलट से प्रोमोशन देकर लोको पायलट बना दिया जाएगा असिस्टेंट लोको पायलट बनने के लिए आपकी उम्र न्यूनतम 18 वर्ष और अधिकतम 28 साल होनी चाहिए लेकिन Ex Service Man को 3-4 साल का छूट दिया जाता है|

5: Senior Time Keeper

Senior Time Keeeper की जॉब भी रेलवे का एक बेहतरीन जॉब हैं कई युवाओं का यही सपना रहता हैं की वो रेलवे में टाइम कीपर का जॉब करें अगर हम बात करें की Senior Time Keeper का क्या काम होता हैं. तो आपको बता दे की इनका मुख्य काम स्टेशन पर ट्रेनों की आवाजाही का समय लिखना, ट्रेन को पास कराने के मदद करना, इंजन में गड़बड़ी पर इंजन बनाने में सहायता करना, स्टेशन के देखभाल इत्यादि होता हैं.
आज के बेरोजगारी और महँगाई भरे जमाने में सीनियर टाइम कीपर की नौकरी एक बेहतरीन नौकरी मानी जाती हैं, क्योंकि इसमें अच्छी सैलरी के साथ साथ Career Growth भी अच्छा हैं, अगर बात करें इसकी करियर ग्रोथ की तो अगर आप सीनियर टाइम कीपर के पद पर रह कर अच्छा काम करते हैं, आपको सीनियर टाइम कीपर से प्रोमोशन देकर मेन सीनियर टाइम कीपर बना दिया जाता है,

Senior Time Keeper की सैलरी कितना होता है?

Senior Time Keeper की शुरुआती सैलरी 29,200 रुपए होती है, लेकिन इसके साथ DA, HRA, Travel, जैसे कई भत्ते भी मिलते हैं भत्ते और सैलरी को मिलाकर सीनियर टाइम कीपर को कुल ₹41,316 रुपए सैलरी के रूप में मिलते हैं,

सीनियर टाइम कीपर को कौन कौन सी सुविधाएँ मिलती है,

  1. फ्री सरकारी मकान की सुविधा
  2. फ्री ट्रेन यात्रा की सुविधा
  3. फ्री मेडिकल की सुविधा
  4. साप्ताहिक छुट्टी की सुविधा
  5. फ्री खाना की सुविधा
  6. आपके पत्नी बाल बच्चे को फ्री ट्रेन यात्रा की सुविधा

सीनियर टाइम कीपर कैसे बने?

सीनियर टाइम कीपर बनने के लिए आपके पास ग्रेजुएशन कि डिग्री होनी चाहिए इसके बाद सीनियर टाइम कीपर के वैकेंसी के समय RRB की वेबसाइट पर जाकर सीनियर टाइम कीपर बनने के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं
पंजीकरण करने के बाद आपको दो एग्जाम CBT 1 और CBT 2 को क्लियर करना होगा फिर आपको computer Aptitude (Reasoning) पर टेस्ट देना होता है, इसके बाद आपका मेडिकल और Document Verification होता है और इसके बाद आपको सीनियर टाइम कीपर के पद सिलेक्शन कर दिया जाता हैं,

सीनियर टाइम कीपर बनने के लिए योग्यता

सीनियर टाइम कीपर बनने के लिए आपको अपना ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरा करना होगा साथ ही आपको न्यूनतम उम्र 18 साल और अधिकतम आयु 33 साल होनी चाहिए, अगर आपके पास ये योग्यता हैं तो आप सीनियर टाइम कीपर बन सकते हैं

6: Commercial Cum Ticket Clerk

Commercial Cum Ticket Clerk रेलवे का एक महत्वपूर्ण पद हैं, इनका काम रेलवे में कंप्यूटर द्वारा हो रहे टिकट को बुकिंग करने में मदद करना, मालगाडियों पर सामान की लोडिंग, अनलोडिंग करना, रेलवे के देखभाल करना इत्यादि होता है,
जो लोग रेलवे स्टेशन पर टिकट खरीदते हैं उनको टिकट प्राप्त करने में Commercial Cum Ticket Clerk मदद करते हैं, कमर्शियल कम टिकट क्लर्क की नौकरी रेलवे का एक बहुत अच्छी नौकरी हैं, हजारों युवा के दिल में यह नौकरी करने का सपना रहता है,

Commercial Cum Ticket Clerk कि सैलरी कितनी होती है?

अगर बात करें कि Commercial Cum Ticket Clerk को कितनी सैलरी दी जाती है तो DA, HRA, और Grade Pay को मिलाकर Commercial Cum Ticket Clerk को कुल ₹31,941 सैलरी के रूप में दिए जाते हैं,

Commercial Cum Ticket Clerk को कौन कौन सी सुविधाएँ दी जाती है

  1. फ्री सरकारी मकान की सुविधा
  2. फ्री ट्रेन यात्रा की सुविधा
  3. फ्री मेडिकल की सुविधा
  4. फ्री भोजन की सुविधा
  5. साप्ताहिक छुट्टी की सुविधा

Commercial Cum Ticket Clerk कैसे बने

Commercial Cum Ticket Clerk आपको ग्रेजुएशन पूरा करना होगा उसके बाद आपको Commercial Cum Ticket Clerk का पंजीकरण करना होगा फिर आपको CBT 1 और CBT 2 को क्लियर करना होगा उसके बाद आपको मेडिकल कि प्रक्रिया से गुजरना होगा, अगर आप इन सब को पास कर लेते हैं तो आपको  Commercial Cum Ticket Clerk के पद पर सिलेक्शन कर लिया जाता हैं,

Commercial Cum Ticket Clerk बनने के लिए योग्यता

Commercial Cum Ticket Clerk बनने के लिए उम्मीदवार के पास ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए साथ ही उम्मीदवार की उम्र न्यूनतम 18 साल और अधिकतम 33 साल होना चाहिए,

7: रेलवे क्लर्क

रेलवे क्लर्क रेलवे का एक महत्वूर्ण नौकरी हैं इस नौकरी में टेंशन कम और सैलरी ज्यादा मिलता हैं, अगर हम बात करें की रेलवे क्लर्क का क्या काम होता है, तो रेलवे क्लर्क का मुख्य काम ट्रेन को कोचों की संख्या का डाटा तैयार करना, ट्रेन और उनकी स्थितियों को रजिस्टर पर रिकॉर्ड मेनटेन करना होता है,
रेलवे क्लर्क का काम काफी आसान होता है, इसलिए लाखों युवा अपना कैरियर रेलवे क्लर्क की नौकरी कर। के बनाना चाहते हैं,

रेलवे क्लर्क को सैलरी कितनी होती है?

रेलवे क्लर्क की सैलरी 19,900 रूपए होती हैं इसके अलावा रेलवे क्लर्क को HRA,DA जैसे कई भत्ते भी मिलते हैं इस प्रकार रेलवे क्लर्क की कुल  सैलरी 28,696 होती हैं, अच्छी सैलरी के अलावा रेलवे क्लर्क को अच्छी सुविधाएँ भी दी जाती हैं.

रेलवे क्लर्क को कौन कौन सी सुविधाएँ मिलती हैं?

  1. फ्री सरकारी रूम की सुविधा
  2. फ्री खाना की सुविधा
  3. साप्ताहिक छुट्टी की सुविधा
  4. मेडिकल के सुविधा
  5. पेंशन की सुविधा
  6. PF की सुविधा

रेलवे क्लर्क कैसे बने?

अगर आप 12 वी कक्षा की पास हैं तो आप रेलवे क्लर्क बन सकते हैं रेलवे क्लर्क बनने के लिए आपको वैकेंसी के समय RRB की वेबसाइट पर जाकर अपना ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा इसके बाद आपको CBT 1 और CBT 2 को क्लियर करके अपना मेडिकल की प्रक्रिया को पूरा करवाना होगा इसके बाद आपको रेलवे क्लार्क के पद पर सिलेक्शन कर लिया जात हैं|

रेलवे क्लर्क बनने के लिए योग्यता

  1. उम्मीदवार 12 वी कक्षा पास होना चाहिए
  2. उम्मीदवार की उम्र न्यूनतम 18 वर्ष होनी चाहिए
  3. उम्मीदवार की अधिकतम आयु 33 वर्ष होनी चाहिए
  4. उम्मीदवार शारीरिक रूप से फिट होना चाहिए

8: Traffic Assistant

Traffic Assistant(ट्रैफिक असिस्टेंट) का पद भी रेलवे का एक बहुत अच्छा पद हैं अगर हम बात करें की Traffic Assistant कौन होते हैं तो आपको बता दे की ये स्टेशन मास्टर के नीचे काम करते हैं और स्टेशन मास्टर के दिशा निर्देशों का पालन करते हैं.
यह सिग्नल को मैनेज करने का काम करते हैं, और यह स्टेशनों मास्टर को स्टेशन संभालने में मदद करते हैं. इनका काम ट्रेन की गति नोट करना भी होता हैं. आशा करते हैं की यह पोस्ट railway me kon kon si pad hote hai आ रहा होगा |

Traffic Assistant की सैलरी कितनी होती हैं?

Traffic Assistant का Basic Pay 25,500 होता हैं इसके अलावा Traffic Assistant को DA, HRA जैसे कई भत्ते भी मिलते हैं इस प्रकार Traffic Assistant को कुल सैलरी के रूप में 31691 रूपए दिए जाते हैं. इसके अलावा ट्रैफिक असिस्टेंट को रेलवे के तरफ से कई सारे सुविधाएँ भी मिलती हैं.

Traffic Assistant को कौन कौन सी सुविधाएँ मिलती हैं?

  1. फ्री मकान की सुविधा
  2. फ्री मेडिकल की सुविधा
  3. साप्ताहिक छुट्टी की सुविधा
  4. रिटायरमेंट के बाद पेंशन की सुविधा

Traffic Assistant कैसे बने

Traffic Assistant बनने के लिए आपके पास ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए इसके बाद आप वैकेंसी के समय RRB की वेबसाइट पर जाकर अपना ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा फिर आपको CBT 1 और CBT 2 इसके बाद Computer Aptitude Test, Document Verification और मेडिकल होता हैं अगर आप इन सब में पास हो जाते हैं तो आपको Traffic Assistant के पद पर सिलेक्शन दे दिया जाता हैं.

Traffic Assistant बनने के लिए योग्यता

Traffic Assistant बनने के लिए उम्मीदवार के पास ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए साथ ही उम्मीदवार की आयु न्यूनतम 18 वर्ष और अधिकतम 33 वर्ष होना चाहिए अगर आप में ये योग्यता हैं तो आप Traffic Assistant बनने के लिए RRB के वेबसाइट पर जाकर पंजीकरण कर सकते हैं.

9: Railways Junior Account Assistant cum Typist

रेलवे का अहम पद में से एक पद Junior Account Assistant cum Typist का भी हैं ये मानव संसाधन विकास के लिए जिम्मेदार वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी के अधीन काम करते हैं इनका काम ऑफिस में होता हैं और Junior Account Assistant cum Typist को सुबह 9 बजे से शाम के 6 बजे तक होता है| इस जॉब में आपको दुसरे रेलवे जॉब के मुकाबले थोड़ा ज्यादा मेहनत करना होता हैं,

Junior Account Assistant cum Typist की सैलरी कितनी होती हैं?

Junior Account Assistant cum Typist का ग्रेड पे 19,900 रूपए होता हैं और इनका Grade Pay 2800 रूपए होता हैं इसके अलावा जूनियर अकाउंट असिस्टेंट कम टाइपिस्ट को कई सारे भत्ते भी मिलते हैं इस तरह Junior Account Assistant cum Typist को कुल सैलरी के रूप में 28696 रूपए दिए जाते हैं|

Junior Account Assistant cum Typist को कौन कौन सी सुविधाएँ मिलती हैं?

  1. जॉब लोकेशन पर फ्री मकान की सुविधा
  2. फ्री भोजन की सुविधा
  3. रेलवे में फ्री यात्रा की सुविधा
  4. फ्री मेडिकल की सुविधा
  5. शनिवार रविवार को छुट्टी की सुविधा
  6. पेंशन की सुविधा

Junior Account Assistant cum Typist कैसे बने

Junior Account Assistant cum Typist बनने के लिए आपको अपनी 12 वी कक्षा पास करनी होगी इसके बाद आप  वैकेंसी के समय RRB की वेबसाइट पर जाकर अपना ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा फिर आपको CBT 1 और CBT 2 इसके बाद Computer Aptitude Test, Document Verification और मेडिकल होता हैं अगर आप इन सब प्रक्रियाओ से पास हो जाते हैं तो आपका Junior Account Assistant cum Typist के पद पर सिलेक्शन कर दिया जाता हैं?

Junior Account Assistant cum Typist बनने के लिए योग्यता

  1. उम्मीदवार 12 वी कक्षा पास होना चाहिए
  2. उम्मीदवार की न्यूनतम उम्र 18 वर्ष होना चाहिए
  3. उम्मीदवार की अधिकतम उम्र 33 साल से होना चाहिये
  4. उम्मीदवार शारीरिक रूप से फिट होना चाहिए

10: Railways Engineer

रेलवे में इंजीनियर बनना काफी गर्व की बात होती हैं. क्योंकि हमारे देश की अर्थव्यवस्था में रेलवे बहुत ही अहम भूमिका निभाता हैं| जब भी रेलवे के अन्दर इंजीनियरिंग की वैकेंसी आती हैं तो उम्मीदवार की संख्या काफी बढ़ जाती हैं| रेलवे इंजीनियर बनने के लिए कोर्स की बात करें तो Mechanical Engineering, Electrical Engineering, Civil Engineering, Computer Engineering, Rail Transport And Management, Software Engineering इत्यादि होते हैं,
रेलवे इंजीनियर की भर्ती RRB द्वारा नियुक्त कराई जाती हैं जिसे हम लोग Railway Recruitment Board के नाम से जानते हैं चलिए हम रेलवे इंजीनियर के सैलरी के बारे में बात कर लेते हैं|

रेलवे इंजीनियर की सैलरी कितनी होती हैं?

रेलवे में विभिन्न प्रकार के इंजीनियर पद होते हैं और उन्ही के आधार पर उन्हें सैलरी प्रदान किये जाते हैं रेलवे में जूनियर इंजीनियर के पद पर कार्य कर रहे उम्मीदवार की सैलरी 35,400 होती हैं , इसके अलावा रेलवे इंजीनियर को बहुत सारे सुविधाएँ भी दी जाती हैं?

रेलवे इंजीनियर को कौन कौन सी सुविधा दी जाती हैं?

रेलवे इंजीनियर को निम्नलिखित सुविधाएँ दी जाती हैं जो इस प्रकार हैं
  1. फ्री मेडिकल की सुविधा
  2. फ्री रेलगाड़ी की यात्रा की सुविधा
  3. साप्ताहिक छुट्टी की सुविधा
  4. पेंशन की सुविधा

रेलवे इंजीनियर कैसे बने?

रेलवे इंजीनियर बनने के लिए आपको 12 वी में Science Subjects से पढ़ाई करनी होगी इसके बाद आपको 4 साल का इंजीनियरिंग का डिग्री प्रोग्राम पूरा करना होगा आप किसी भी मान्यता प्राप्त University से B-Tech को कोर्स कर सकते हैं  इसके बाद आपको वैकेंसी के समय RRB की वेबसाइट पर जाकर अपना ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा फिर आपको CBT 1 और CBT 2 का एग्जाम देना होगा इसके बाद आपका Document Verification होता हैं और आखिरी में आपका मेडिकल होता हैं अगर आप इन सारी बाधाओं को पार करके आगे बढ़ते हैं तो आपको रेलवे इंजीनियर के पद पर सिलेक्शन हो जाता हैं और इस प्रकार आप रेलवे इंजीनियर बन पाएंगे

रेलवे इंजीनियर बनने के लिए योग्यता

  1. आवेदक का 12वी में Science Subject होना अति आवश्यक हैं
  2. उम्मीदवार के पास B-Tech या इसके जैसी इंजीनियरिंग की डिग्री होनी चाहिए
  3. आवेदक की न्यूनतम आयु 20 साल होनी चाहिए
  4. आवेदक का अधिकतम आयु 33 साल होना चाहिए (ST/SC को 3 साल की छूट)
  5. उम्मीदवार शारीरिक और दिमागी रूप से स्वस्थ होना चाहिए

11: ट्रैक मेन

ट्रैक में रेलवे का एक अहम् पद हैं. Track Man का पोस्ट ग्रुप डी में आता हैं | ट्रैक मेन का काम रेलवे के भाडी भरकम पटरियों को उठाना तथा छोटे छोटे रेलवे स्टेशनों पर हाथ से ट्रैक बदलना होता हैं. ट्रैक मेन बनने के लिए आपका 10 वी क्लास पास होना साथ ही आईटीआई का डिग्री होना बेहद जरुरी हैं?

ट्रैक मेन की सैलरी कितनी होती हैं?

ट्रैक मेन की शुरुआती सैलरी 18000 रूपए होती हैं लेकिन अनुभव के साथ साथ इनकी सैलरी में भी इजाफा होता हैं. और एक समय आने पर ट्रैक मेन की सैलरी 26000 से 27000 रूपए तक हो जाती हैं |

ट्रैक मेन को कौन कौन सी सुविधा मिलती हैं?

  1. पेंशन की सुविधा
  2. साप्ताहिक छुट्टी की सुविधा
  3. फ्री रेल यात्रा की सुविधा
  4. फ्री भोजन की सुविधा

ट्रैक मेन बनने के लिए योग्यता

ट्रैक मेन बनने के लिए सबसे पहले आपको अपने 10 वी क्लास को पास करना होगा इसके बाद आपको आईटीआई का डिग्री लेना होगा इसके बाद वैकेंसी के समय RRB की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन पंजीकरण करके रेलवे ट्रैक मेन बनने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं |

रेलवे ट्रैक मेन कैसे बने ?

रेलवे ट्रैक मेन बनने के लिए सबसे पहले आपको अपनी 10 वी कक्षा को पास करना होगा इसके पास 2 साल का आईटीआई की डिग्री लेना होगा इसके बाद आप वैकेंसी के समय RRB की वेबसाइट पर रेलवे ट्रैक मेन बनने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं |

निष्कर्ष 

तो दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम ने जाना railway me kon kon si pad hote hai. हमने इस पोस्ट में रेलवे के केवल उन्ही पद के बारे में बताएं हैं जो बहुत मशहुर हैं. बाकी रेलवे के जितने भी पद हैं निचे आपको एल लिस्ट में मिल जाएगी बाकी आशा करते हैं की यह पोस्ट रेलवे में कौन कौन से पोस्ट होते हैं? आपको पसंद आया होगा
इस पोस्ट को अपने तमाम दोस्तों,रिश्तेदारों में जरुर शेयर करे ताकि वो भी इस पोस्ट का फायदा उठा सके,बाकी अगर इस पोस्ट से सम्बंधित आपका कोई सवाल या सुझाव हैं, तो हमें निचे कमेन्ट बॉक्स में बताने की कोशिश करें

FAQ

रेलवे में कौन कौन सी पोस्ट होती हैं?

  1. स्टेशन मास्टर
  2. गुड गार्ड
  3. टिकट कलेक्टर
  4. लोको पायलट
  5. Senior Time Keeper
  6. Commercial Cum Ticket Clerk
  7. रेलवे क्लर्क 
  8. ट्रैफिक असिस्टेंट
  9.  Junior Account Assistant cum Typist
  10. रेलवे इंजीनियर
  11. ट्रैक मेन

रेलवे में कितने प्रकार के पद होते हैं?

रेलवे में जितने भी पद हैं वो चार ग्रुप (Group-A, Group-B, Group-C, Group-C) में बटे हुए हैं|

रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी किसकी होती है?

रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी स्टेशन मास्टर, लोको पायलट, गुड्स गार्ड की होती हैं |
 

रेलवे ग्रुप सी में क्या काम होता है?

रेलवे के ग्रुप सी में टिकट कलेक्टर, गुड्स गार्ड्स, असिस्टेंट स्टेशन मास्टर इत्यादी जैसे ओपद होता हैं, ग्रुप सी में जितने भी पद होते उनका काम रेलवे को ठीक से चलना, यात्री का डाटा तैयार करना, स्टेशन की देखभाल करना इत्यादी होता हैं |
 

रेलवे में सबसे बड़ा पद कौन सा होता है?

भारतीय रेलवे का सबसे बड़ा पद रेलवे बोर्ड का अध्यक्ष होता हैं इनका काम भारतीय रेलवे का डाटा बनाकर केंद्र सरकार को देना होता हैं |
 

रेलवे में कितने विभाग होते हैं?

भारतीय रेलवे को 17 जोन तथा 70 डिविजन में बाटा गया हैं, लेकिन रेलवे के जॉब के नजरिये से रेलवे के चार विभाग (A, B, C तथा D) होते हैं |
 
 

रेलवे में लड़कियों के लिए कौन कौन सी जॉब है?

रेलवे में लड़कियों के लिए Group (A, B, C,) में जॉब उपलब्ध हैं| कोई भी लड़की इन पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकता हैं| 
 

नमस्कार दोस्तों मैं Sonu Kumar इस ब्लॉग का लेखक और मालिक हूँ | मैं अपने ब्लॉग पर Career, Job, Earn Money Tips, और लोगो के Success Story के ऊपर लेख लिखता हूँ,

Leave a Comment