Affiliate Marketing In Hindi | एफिलिएट मार्केटिंग क्या हैं हिंदी में

Rate this Post

दोस्तों क्या आप एफिलिएट मार्केटिंग के बारे में जानते हैं, अगर आपने कभी गूगल या Youtube पर ऑनलाइन पैसा कैसे कमाए के बारे में सर्च किया होगा, तो वहां पर आपको एक तरीका जरुर मिला होगा जिसका नाम हैं एफिलिएट मार्केटिंग ,, लेकिन क्या आपको मालूम हैं की एफिलिएट मार्केटिंग क्या हैं, और किस प्रकार हम एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कमा सकते हैं |

Affiliate-Marketing-In-Hindi,

अगर आपको मालूम नहीं हैं की आखिर Affiliate Marketing क्या होता हैं तथा यह कैसे काम करता हैं, तो इस पोस्ट में हम आपको इसके बारे में पुरी जानकारी देंगे, जिससे आपको समझ में आ जायेगा की आखिर एफिलिएट मार्केटिंग क्या होता हैं, तो अगर आप इसके बारे में जानना चाहते हैं, तो इस पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े |

Affiliate Marketing Kya Hai

एफिलिएट मार्केटिंग एक ऐसी बिज़नेस हैं जिसमें कोई आदमी अपने सोशल मीडिया, वेबसाइट या YouTube Channel के द्वारा किसी कंपनी के प्रोडक्ट को प्रमोट कर उस उसे अधिक लोगो तक पहुंचाता हैं एवं दूसरे लोगो से उस प्रोडक्ट को खरीदने की सलाह देता हैं इसके बदले उसे प्रत्येक ख़रीददारी पर कुछ कमीशन मिलता है 

अब यह बिल्कुल नहीं है कि सिर्फ प्रोडक्ट या ऑनलाइन शॉपिंग कंपनियों के ही एफिलिएट प्रोग्राम होता है  दरअसल एफिलिएट प्रोग्राम कई प्रकार के होते हैं जैसे 

  • Shopping Company Affiliate
  • Hosting Company Affiliate
  • Course Affiliate
  • Tool Affiliate

अगर आप एफिलिएट मार्केटिंग Affiliate Marketing से ज्यादा पैसे कमाना चाहते हैं तो आपको एक ब्लॉग बनाना चाहिए

Affiliate Manager : Satish Kushwaha


एफिलिएट मार्केटिंग कैसे काम करता है 

अब अगर आप भी एफिलिएट मार्केटिंग से अच्छे खासे पैसे कमाना चाहते है तो आपको यह जानना बहुत ही जरुरी है की आखिर एफिलिएट मार्केटिंग कैसे काम करता हैं?

एफिलिएट मार्केटिंग में मुख्य रूप से तीन लोग शामिल होते है.

  • कंपनी
  • कस्टमर
  • और Affiliater

जब भी कोई कंपनी बनती है तो उसके पास ग्राहक नहीं रहते है. जिसके कारण वह अपना Affiliate Program निकालती है. ताकि लोग उनके Affiliate Marketing Program से जुड़ कर उनके प्रोडक्ट को ग्राहक तक पहुचाये |

इसलिए जब कोई व्यक्ति कंपनी के प्रोडक्ट को बिकवाता है तो कंपनी उसे कुछ कमीशन देता है और इस प्रकार पूरा एफिलिएट मार्केटिंग काम करता हैं.

यह भी पढ़े

Affiliate Marketing को कैसे शुरू करें 

अगर आपने सोच लिया है की आपको एफिलिएट मार्केटिंग शुरू करना है तो हमारे इस गाइड को पढ़ सकते हैं.

1. इंटरनेट पर अपना प्लेटफॉर्म बनाए

अगर आप एफिलिएट मार्केटिंग से अधिक पैसा कमाना चाहते है तो इसके लिए सबसे पहले आपको ऑनलाइन पहचान बनाना होगा क्योंकी इन्टरनेट के माध्यम से ही आप एक सफल Affiliate Marketer बन सकते हैं.

आप अपना एक वेबसाइट, YouTube Channel , ब्लॉग या सोशल मीडिया पर अपनी पहचान बढ़ाकर वहाँ पर किसी भी एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्रम्म से जुड़कर वहां पर लिंक दे सकते है. जिसके बाद जब आपके लिंक से कोई व्यक्ति किसी सामान को खरीदेगा तो आपको कमीशन मिलता हैं.

इसके अलावा आप इन्टरनेट की दुनिया में आप अपना Blog भी बना सकते हैं और उसपर एफिलिएट मार्केटिंग करके बहुत अच्छे पैसे कमा सकते हैं, अगर आपको फ्री ब्लॉग बनाना नहीं आता हैं तो इसकी जा जानकारी के लिए आप हमारा पोस्ट ब्लॉग कैसे बनाये को पढ़ सकते हैं ”

2. ऑडियंस बनाये

जब आप किसी भी सोशल मीडिया जैसे – फेसबुक, ट्विटर, Instagram, YouTube या कोई अन्य सोशल मीडिया पर काम कर रहे है तो अपने Audience को बनाये क्योंकी अगर Audience नहीं रहेगी तो आपके सामान को खरीदेगा कौन खरीदेगा. ताकि लोग आपके दिए लिंक से खरीदारी करे.

इसलिए अगर आप एफिलिएट मार्केटिंग से सच में पैसे कामना चाहते हो तो आपको ऑडियंस तो बनानी ही पड़ेगी

3. किसी कंपनी के Affiliate Program Join करें 

इसके बाद आपको किसी भी कंपनी के Affiliate Program से जुड़ना होगा इंटरनेट पर आपको ऐसे बहुत सारे ऐसे कंपनी मिल जाएंगे जो Affiliate Marketing Program का ऑफर देती हैं 

जैसे 

4. Affiliate Link बनाए 

अब जब आप किसी कंपनी के Affiliate Program से जुड़ गए हैं तो इसके बाद आपको उस कंपनी के प्रोडक्ट के लिंक को Affiliate लिंक में बदलना होगा 

5. Affiliate Link को ब्लॉग/वेबसाइट पर लगाए

अब जब आपने उस प्रोडक्ट के लिंक को Affiliate Link को अपने इंटरनेट प्लेटफॉर्म जैसे ब्लॉग या यूट्यूब चैनल के वीडियो के Description में देना होगा ताकि अधिक से अधिक लोग आपके link द्वारा उस समान को खरीद सके |

आप ऊपर बताये गए तरीके को अपनाकर Affiliate Marketing का बिजनेश शुरू कर सकते हैं, अब हम आपको एफिलिएट मार्केटिंग से रिलेटेड कुछ महत्वपूर्ण सवालों के जवाव देने जा रहे हैं जिसको जानना हर Affilites के लिए बहुत जरुरी हैं |

Sonu Kumar From Litehindi

Affiliates कौन होते हैं 

जो लोग किसी कंपनी के Affiliate Programm कोई ज्वाइन कर Affiliate Marketing से पैसे कमाते हैं उन्हीं लोग को Affiliate Market In Hindi की दुनिया में Affilites कहते हैं 

Affiliate Market Place क्या है?

बहुत सारे ऐसे कंपनी हैं जो अलग अलग विषय के क्षेत्र में अपना Affiliate Program लॉन्च करती हैं इन्हीं कंपनियों को Affiliate Market Place कहा जाता है 

Affiliate Id क्या है?

जब कोई  व्यक्ति व्यक्ति किसी कंपनी के Affiliate Program को ज्वाइन करता हैं तो उसे एक यूनिक नंबर आईडी मिलता हैं इस यूनिक आइडी के द्वारा वह व्यक्ति यह आसानी से जान सकता है कि उसके Affiliate Link से कितने लोग समान को खरीद रहे हैं उसी उनकी नंबर को Affiliate Marketing In Hindi की दुनिया में Affiliate Id कहा जाता है 

Affiliate Link क्या है? 

जब कोई व्यक्ति अपने Affiliate ID के द्वारा किसी प्रोडक्ट का लिंक बनता हैं तो उसे Affiliate Link कहते हैं और इसी लिंक से जब कोई उस प्रोडक्ट को खरीदता हैं तो उस व्यक्ति को कुछ कमिशन मिलता है तो एफिलिएट आईडी से बनाए गए लिंक को Affiliate link कहते हैं 

Affiliate Commission क्या है?

जब भी कोई आदमी किसी के Affiliate Link से किसी प्रोडक्ट को खरीदता हैं तो Affiliates को कुछ राशि दिया जाता है और इसी राशि को Affiliate Marketing In Hindi के भाषा में Commission कहा जाता है 

Link Clocking क्या है?

अक्सर जो Affiliate Link होते हैं वो काफी लंबे होते हैं जो कि दिखने में बेहद अजीब लगते हैं इन्हीं Link को Url Shortner के माध्यम से छोटा करने की प्रक्रिया को Link Clocking कहा जाता है 

Affiliate मैनेजर कौन होते हैं 

कुछ Affiliate Program चलाने वाली कंपनी अपने Affiliate Program से जुड़े हुए लोग को सुझाव देने के लिए एक व्यक्ति को नियुक्ति करता हैं जिन्हें Affiliate मैनेजर कहते हैं ये Affiliates को यह सुझाव देते हैं कि किस प्रकार Affiliate Marketing In Hindi किया जाए 

Payment Mode क्या है?

पेमेंट को प्राप्त करने की विधि को Payment Mode कहते हैं इसका सरल अर्थ है कि Affiliate Marketing से कमाए हुए पैसे को किस विधि द्वारा आप अपने बैंक अकाउंट में मांगना चाहते हैं 

Payment Threshold क्या है?

कुछ Affiliate Program चलाने वाली कंपनी एक निर्धारित राशि कमाने के बाद ही उस राशि को Affiliates को पेमेंट करती हैं इसी प्रक्रिया को Payment Threshold कहा जाता है |

Affiliate Market In Hindi Video

जी हां अगर आप Google AdSense के साथ Affiliate Marketing का उपयोग करना चाहते हैं तो बेशक कर कर सकते हैं इससे आपके गूगल एडसेंस अकाउंट पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा क्योंकि Affiliate Marketing AdSense के सारे नियमों का पालन करता हैं 

आप जिस भी कंपनी के एफिलिएट प्रोग्राम से जुड़ना चाहते हैं उस कंपनी के एफिलिएट पेज पर जाकर सबसे पहले अपना Affiliate Account बना ले अकाउंट बना लेने के बाद आप सफल पूर्वक उस कंपनी के एफिलिएट प्रोग्राम से जुड़ जाते हैं “

एफिलिएट मार्केटिंग से कितना पैसा कमा सकते है यह कोई तय नहीं आपके Affiliate Link से कितना ज्यादा लोग प्रोडक्ट खरीदेंगे उतना ही ज्यादा आपकी कमाई होगी मैं कई सारे ऐसे सफल एफिलिएट मार्केटर को जनता हूं जो Affiliate Marketing को Join करके महीने के लाखों रुपए कमा रहे हैं |

एक सफल Affiliate Marketing करने के लिए आपका सोशल मीडिया पर मजबूत पकड़ होनी चाहिए या फिर आपका यूट्यूब चैनल या ब्लॉग हैं तो उस पर ट्रैफिक आना चाहिए तब ही आप Affiliate Marketing से ज्यादा पैसे कमा पाएंगे 

Affiliate marketing से आम लोगों और affiliates दोनों का फायदा हैं जिनको कोई प्रोडक्ट खरीदता होता है वो सबसे पहले।उस प्रोडक्ट के रिव्यू को देखते हैं जो को एफिलिएट मार्केटर बताते हैं जिसकी मदद से वह यह आसानी से तय कर पाते हैं कि यह प्रोडक्ट की गुणवतता कैसी हैं “

जी हां फ्लिपकार्ट भी अपने प्रोडक्ट को अधिक Sell करवाने के लिए Affiliate Marketing की सुविधा देता हैं और अगर आप फ्लिपकार्ट की एफिलिएट प्रोग्राम से जुड़ना चाहते हैं तो आप यहां क्लिक कर के फ्लिपकार्ट एफिलिएट प्रोग्राम से जुड़ सकते हैं

एफिलिएट मार्केटिंग के लिए सबसे अच्छा Ads Google Search Ads हैं |

यह भी पढ़े

निष्कर्ष

आशा करते हैं कि अब आप Affiliate Marketing In Hindi समझ गए होंगे और आप आप इस पोस्ट को पढ़कर यह भी समझ गए होंगे कि Affiliate Marketing kya Hai एफिलिएट मार्केटिंग क्या है और Affiliate Marketing कैसे काम करता है “

😎 बड़े भैया पोस्ट को शेयर करें

नमस्कार दोस्तों मैं Sonu Kumar इस ब्लॉग का लेखक और मालिक हूँ | मैं अपने ब्लॉग पर Career, Job, Earn Money Tips, और लोगो के Success Story के ऊपर लेख लिखता हूँ,

Leave a Comment